Skip to main content of main site

Latest News

Rai goes silent, it's Kejriwal vs Modi now

Meanwhile, the city is AAPed. Professionals, students , housewives, civil society activists from all over the country are knocking at the doors of dharamshalas, motels and houses of long-lost relatives for a week of stay. A better part of the time of these volunteers, many of whom were cynical about politics till Kejriwal's Delhi experiment , is spent on roads, gullies and in villages distributing pamphlets, caps and convincing people that Banaras should not "sully" itself with Modi's idea of India. Read More

Varanasi Diaries - May 6

भरी दोपहर में विशाल ददलानी और जावेद जाफरी दाल मंडी में लोगों से जनसम्पर्क करने निकल गए. लोगों ने छातो से फूल फेखकर उनका स्वागत किया। पठानी टोला, जैनपुरा और हरहा में जनसभा भी की. लोगो बॉलीवुड के मशहूर गायक विशाल ददलानी को सड़कों पर देख काफी खुश हुए और उनसे जा जाकर हाथ भी मिलाया। विशाल ने जनता से ईमानदार नेता को चुनने की अपील की.
जावेद जाफरी दाल मंडी में व्यापारियों से मिलने के बाद बिस्मिल्लाह खान के घर पहुंचे. जावेद ने जनता से कहा, "इस बार वोट बटने नहीं देना है. मिलके झाड़ू से राजनीती की गन्दगी साफ़ करना है." 

Pages

Make a Donation